दिल्ली में होगा भारत-बांग्‍लादेश के बीच पहला टी-20 मुकाबला

 दिल्ली में होगा भारत-बांग्‍लादेश के बीच पहला टी-20 मुकाबला
भारत और बांग्‍लादेश के बीच दिल्‍ली में तीन नवंबर को होने वाला पहला T-20 मैच आपने समय और निर्धारित स्‍थान पर ही होगा. इस बात का ऐलान बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली ने कर दी है. दिवाली के बाद दिल्‍ली में मौसम खराब होने और प्रदूषण बढ़ने के बाद यह आशंका जताई जा रही थी कि हो सकता है कि मैच कहीं और ट्रांसफर कर दिया जाए, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, यह तय हो गया है. दिवाली के बाद दिल्‍ली में प्रदूषण का प्रकोप अचानक बढ़ गया है. दिवाली के तीन दिन बाद भी हवा की क्वालिटी में कुछ खास फर्क नहीं आया है. धुंध इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि धूप कहीं भी नजर नहीं आ रही और तो और लोगों को सांस लेने में भी काफी दिक्कत हो रही है.

इस संबंध में पर्यावरणविदों की ओर से बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली को पत्र लिखा गया था, जिसमें मैच को दिल्‍ली से हटाकर कहीं और कराने का अनुरोध किया गया था. केयर फॉर एयर की ओर से ज्‍योति पांडे और माय राइट टू ब्रीथ की रवीना राज ने सौरव गांगुली को पत्र में लिखा था कि दिल्‍ली में जबरदस्‍त वायु प्रदूषण के कारण आपसे अनुरोध है कि यह मैच दिल्‍ली से बाहर कराया जाए. दिल्‍ली की हवा इतनी जहरीली हो चुकी है कि यहां तीन चार घंटे खेलने मात्र से ही टीमों की सेहत पर नकारात्‍मक असर पड़ सकता है. पत्र में यह भी लिखा गया था कि इस मैच को देखने हजारों की संख्‍या में लोग भी आएंगे. प्रदूषण उनके लिए भी नुकसानदेह साबित हो सकता है.

इन दोनों ही संगठनों ने यह भी मांग की थी कि घरेलू और अंतरराष्‍ट्रीय मैचों के आयोजन स्‍थल और कार्यक्रम को तय करते समय उस जगह के एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स को भी ध्‍यान में रखा जाना चाहिए. हालांकि इससे पहले सोमवार को ही दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह उम्‍मीद जताई थी कि भारत और बांग्‍लादेश के बीच होने वाले मैच पर कोई असर नहीं पड़ेगा. उन्‍होंने दावा किया था कि दिल्‍ली की सरकार वायु गुणवत्‍ता बेहतर करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है. दिल्‍ली सरकार अपने इस प्रयासों में किस हद तक सफल हो सकी है, यह तो आने वाले कुछ दिनों में ही पता चल सकेगा.

हालांकि गौरतलब है कि दिल्‍ली में प्रदूषण के कारण इससे पहले भी यहां के लोगों ने भयाभय स्‍थिति देखी थी, तब दिसंबर के ही महीने में साल 2017 में यहां मैच खेला गया था. तब श्रीलंका के खिलाड़ियों को प्रदूषण के कारण दिक्‍कत का सामना करना पड़ा था. श्रीलंका के खिलाड़ी प्रदूषण से बचने के लिए मास्‍क पहनकर मैदान में उतरे थे, इसके बाद भी कुछ खिलाड़ी बीमार हो गए थे. दिवाली के बाद से ही दिल्‍ली में होने वाले मैच पर संकट के बादल मंडरा रहे थे, अब सौरव गांगुली ने खुद ही स्‍थिति स्‍पष्‍ट कर दी है. ऐसे में अब बादल छंट गए हैं.


 



loading...

Related News



सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबरे