Moodys ने भारत को दिया झटका, अर्थव्यवस्था के आउटलुक को नेगेटिव किया

 Moodys ने भारत को दिया झटका, अर्थव्यवस्था के आउटलुक को नेगेटिव किया
क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भारत को झटका दिया है. मूडीज ने भारत की रेटिंग को स्थिर से नकारात्मक कर दिया है. इसके लिए एजेंसी ने सुस्त आर्थिक वृद्धि का हवाला दिया है और भारत की रेटिंग के लिए अपना नजरिया बदल दिया है.

एजेंसी ने भारत के लिए बीएए2 विदेशी-मुद्रा और स्थानीय मुद्रा रेटिंग की पुष्टि की है. मूडीज ने कहा है कि धीमी अर्थव्यवस्था को लेकर जोखिम और बढ़ रहा है. आगे रेटिंग एजेंसी ने कहा कि पिछले सालों की तुलना में भविष्य में आर्थिक विकास भौतिक रूप से कम रहेगा. इतना ही नहीं, मूडीज ने यह भी कहा कि आर्थिक मंदी को लेकर चिंताएं लंबे समय तक रहेंगी और कर्ज और भी बढ़ेगा.

इस पर भारत सरकार ने कहा कि, देश की अर्थव्यवस्था की बुनियाद काफी मजबूत है और हाल ही में किए गए सुधारों की घोषणा निवेश को प्रोत्साहित करेगी. इस संदर्भ में वित्त मंत्रालय ने कहा कि भारत सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है. 

मंत्रालय ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के ताजा विश्व इकोनॉमिक आउटलुक में भारत की वुद्धि दर 6.2 फीसदी बताई गई थी और उससे आगले साल के लिए सात फीसदी रहने की बात कही थी. आईएमएफ और अन्य संगठनों के अनुसार, भारत की विकास दर अपरिवर्तित है.



loading...

Related News



सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबरे